पूजा और पाठ

भगवान श्रीगणेश की पूजा विशेष रूप से की जाती है

Thursday, May 31, 2018 11:35 AM

  2 जून, शनिवार को ज्येष्ठ के अधिक मास की चतुर्थी तिथि है। इस दिन भगवान श्रीगणेश की पूजा विशेष रूप से की जाती है। ये चतुर्थी तिथि इसलिए भी खास है क्योंकि अधिक मास 3 साल में एक बार आता है। इसके बाद अधिक मास की चतुर्थी तिथि 2021 में आएगी। 

 यदि भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो किसी की भी मनोकामना पूरी हो सकती है। जानिए चतुर्थी तिथि पर कौन-से उपाय कर आप भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न कर सकते हैं…
 
1. चतुर्थी तिथि पर दूर्वा के श्रीगणेश बनाकर पूजा करें। इससे आपकी सभी समस्याओं का समाधान हो सकता है। 
2. श्रीगणेश को हल्दी की पांच गठान श्री गणाधिपतयै नमः बोलते हुए अर्पित करें। इस उपाय से प्रमोशन की संभावनाएं बढ़ सकती है।
3. श्रीगणेश को 21 गुड़ की गोलियां बनाकर दूर्वा के साथ अर्पित करें। इससे स्वास्थ्य से संबंधित समस्याओं का समाधान हो सकता है।
4. चतुर्थी तिथि पर भगवान श्रीगणेश का शुद्ध पानी से अभिषेक करने से विशेष लाभ होता है। गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ भी करें।
5. चतुर्थी तिथि पर व्रत रखें और श्रीगणेश को तिल के लड्डू का भोग लगाएं। आपकी हर इच्छा पूरी हो सकती है।
6. श्रीगणेश को गाय के शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाएं। इस उपाय से धन संबंधी समस्या का निराकरण हो सकता है।
7. हाथी को हरा चारा खिलाएं और गणेश मंदिर जाकर अपनी परेशानियों का निदान करने के लिए प्रार्थना करें